बिहार सांस्कृतिक मंच जे.एन.यू के द्वारा बिहार के प्रवासी मजदूरों की बदहाल स्थिति को देखते हुए ट्विटर पर चल रहे ट्रेंडिंग #IndustryInBihar को मजबूती प्रदान की गई

बिहार भूमि के प्रवासी मजदूरों की बदहाल स्थिति को देखकर सुशासन बाबू को शर्म आनी चाहिए:- शुभम पोद्दार

सहरसा:- बिहार सांस्कृतिक मंच जे.एन.यू के द्वारा बिहार के प्रवासी मजदूरों की बदहाल स्थिति को देखते हुए ट्विटर पर चल रहे ट्रेंडिंग #IndustryInBihar को मजबूती प्रदान की गई। मंच के संस्थापक सदस्य व संयोजक शुभम पोद्दार ने सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि बिहार भूमि के प्रवासी मजदूरों की बदहाल स्थिति को देखकर सुशासन बाबू को शर्म आनी चाहिए। वही बिहार सांस्कृतिक मंच के निशांत विद्यार्थी ने कहा कि जिस बिहार के मजदूरों उद्योगपतियों को समृद्ध बनाने में जान की बाजी लगा देते हैं और उन्ही मजदूरों को कठिन आपदा की घड़ी में पैदल रास्ता नापने के लिए मजबूर किया जाता है। आखिकार बिहार सरकार राज्य के सभी बंद चीनी मीलों को चालू कर दे और नई औद्योगिक इकाई स्थापित कर दे तो हमारे मजदूर भाई प्रवासी होने पर मजबूर नही होते।  इस मुहिम में BHU, DU, IIT, VIT के सेंकड़ों छात्रों ने इनका साथ देकर अपनी आवाज एक स्वाभिमानी बिहारी होने के नाते अपने सूबे के मुख्यमंत्री एवं उनके मंत्रिमंडल को प्रेषित किया। इस मुहिम में JNU बिहार सांस्कृतिक मंच के संस्थापक सदस्यों के साथ करीब 100 से ज्यादा छात्रों की टीम शुरू से अंत ट्रेंडिंग में साथ देती रही। इनमे सचिव कुमार आशुतोष, भास्कर ज्योति, चंदन ठाकुर, अंकित सागर, रवि राज, शाम्भवी झा, जयंत, अंबुज, सहित सैंकड़ों की संख्या में छात्र लगातार #industryInBihar मांग उठाते रहे।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close