मोतीझील में शुरू हुआ नौकायान, पर्यटन की संभावनाओं को लगे पंख

मोतिहारी:- सत्याग्रह से स्वच्छता अभियान के तहत लगातार तीसरे रविवार को मोतीझील में स्वच्छता अभियान का संचालन किया गया। डीएम एसके अशोक के नेतृत्व में श्रीकृष्णनगर घाट पर मोतीझील की सफाई की गयी। इस दौरान घाट के निकट की जलकुंभी हटायी गयी। डीएम ने एनडीआरएफ (नौवीं बटालियन) के मोटर बोट के माध्यम से मोतीझील में क्रियान्वित साफ-सफाई अभियान का जायजा लिया। मोतीझील में सतत साफ-सफाई संचालन एवं पर्यवेक्षण के उद्देश्य से पर्याप्त संख्या में कर्मियों की प्रतिनियुक्ति के लिए अविलंब आवश्यक कार्रवाई का निर्देश नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी को दिया। इसमें अपर समाहर्ता शशि शेखर चौधरी, अपर समाहर्ता आपदा प्रबंधन अनिल कुमार, परियोजना निदेशक आत्मा, जिला मत्स्य पदाधिकारी, कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद आदि सहित बड़ी संख्या में आम नागरिकों ने भाग लिया। इस दौरान मोतीझील में बोट देखकर लोगों को खुशी का ठिकाना नहीं था। लोगों के आंखों में उम्मीद झलक रही थी कि अब मोतीझील का विकास नहीं रुकेगा। यहां पर्यटन की संभावनाएं जन्म ले रहीं हैं।  कार्गो बोट से जल क्रीड़ा में रुचि रखनेवाले खिलाड़ियों को मिलेगा प्रशिक्षण:- इसके पश्चात डीएम ने रोइंग क्लब में कार्गो बोट का शुभारंभ किया। बताया कि तीन कार्गों बोट की तैनाती की गयी है। इसके माध्यम से जल क्रीड़ा में रुचि रखनेवाले खिलाड़ियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। यहां से प्रशिक्षित खिलाड़ी विभिन्न स्तरों पर आयोजित होनेवाले जल क्रीड़ा में भाग ले सकेंगे। इसके लिए अविलंब कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया गया है। डीएम ने कहा कि मोतीझील में सफाई अभियान न केवल जल के समुचित संरक्षण में मदद करेगा, बल्कि यह जल क्रीड़ा व नौकायन को बढ़ावा देने में सहायक सिद्ध होगा। जिला के लिए यह नि:संदेह अविस्मरणीय उपलब्धि साबित होगी। डीएम ने रोइंग क्लब का भी निरीक्षण किया तथा भवन निर्माण विभाग के सहायक अभियंता को क्लब के यथोचित संधारण के लिए आवश्यक कार्रवाई का निर्देश दिया।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close