सजना की सलामती को सुहागिनों ने रखा वट सावित्री व्रत

बरगद के पेड़ में धागा बांधकर की विधिवत पूजा

जमुई:- शहर में महिलाएं अपने सुहाग की सलामती के लिए गुरुवार को वट सावित्री व्रत किया। सुहागिनों ने व्रत के दरम्यान परंपरागत एवं वैदिक रीति – रिवाज से वट वृक्ष की पूजा – अर्चना की और अपने अमर सुहाग की अदृश्य शक्ति से प्रार्थना की। इसी कड़ी में सुहागिनों ने बरगद के पेड़ में धागा बांधा और अपने – अपने पति की दीर्घायु के साथ परिवार की सुख – समृद्धि की भी कामना की।   उधर ग्रामीण इलाकों में भी वट सावित्री (बरगदाही अमावस) का पर्व श्रद्धा के साथ मनाया गया। गांव में भी सुहागिन महिलाओं ने बरगद के पेड़ पर धागा बांधकर विधिवत पूजा – अर्चना की और प्रसाद का वितरण किया। हालांकि इस बार कोरोना महामारी के कारण बरगद के पेड़ पर पूजा करने वाली महिलाओं की संख्या बहुत ही कम देखी गई। अधिकतर महिलाओं ने अपने – अपने घरों में ही बरगद की डाली की पूजा कर धार्मिक परंपराओं का निर्वहन किया। इधर जो सुहागिन बाहर निकली वह भी मास्क के साथ सामाजिक दूरी का पालन करती नजर आईं।                         शहर में कई वट वृक्ष के नीचे पंडित जी सावित्री – सत्यवान से सम्बंधित कथा सुनाते देखे गए। सुहागिनों ने शांत चित्त से व्रत से सम्बंधित कथा का श्रवण कर उसे आत्मसात किया।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close