बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत बालिकाओं को किया जागरूक

सुपौल:-उत्क्रमित उच्च विद्यालय की शिक्षिका बबीता कुमारी ने रविवार को सरायगढ़ प्रखंड के कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में बालिकाओं को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान पोक्सो एक्ट के तहत बालिकाओं को गुड टच बेड टच के बारे में जानकारी दी हमारे समाज में बालिकाओं का शोषण जैसी घटनाएं बढ़ती जा रही है जिसमें 90 प्रतिशत बाल यौन शोषण अपने रिश्तेदार अथवा जान-पहचान के लोगों के द्वारा ही किया जाता है जिसके लिए बच्चों एवं बच्चों के माता-पिता सहित समाज के लोगों को भी जागरूक होने की आवश्यकता है।           उन्होंने कहा पोक्सो एक्ट के तहत 18 बर्ष से कम उम्र के बालिकाओं के साथ अश्लील हरकतें अथवा किसी भी तरह की दुर्व्यवहार किया जाने पर चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 पर डायल कर सूचित करें उन्होंने बालिकाओं से समझाते हुए कहा कि किसी पुरुष या लड़कों के द्वारा किसी भी प्रकार की अश्लील हरकत लड़कियों के साथ हो तो उसके लिए चुप नहीं रहना है घर में है तो अपने माता-पिता स्कूल में यदि है तो अपने शिक्षकों को बताना है उन्होंने कहा कि हमारी बेटी बचेगी तभी पड़ेगी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान का मुख्य उद्देश्य बेटी को बचाने के साथ ही बेटी को आगे बढ़ाना है समाज में गंदी हरकत करने वाले लड़कों के चलते पढ़ाई को बाधित नहीं रखता है ऐसे लड़कों का हमें डटकर मुकाबला करना है तभी बेटियां समाज में लड़ना और पढ़ना भी सीखेगी। उन्होंने बच्चियों से कहा कि किसी अनजान व्यक्ति द्वारा खाने-पीने की वस्तुओं एवं किसी भी प्रकार के प्रलोभन से बचे, मोबाइल फोन से दूरियां बनाकर रखें ,फोन पर लंबी बातचीत करने से बचें, अपने माता-पिता के साथ कहीं घूमने जाये, रिश्तेदारियों से ज्यादा नजदीकियां नहीं बनाएं अपनी पढ़ाई पर सिर्फ ध्यान दें आदि बातों की जानकारी दी गई। सभी बेटियों के जन्म उत्सव पर खुशी मनाएं जिससे लड़के और लड़कियों के बीच समानता को बढ़ावा मिले बाल विवाह एवं दहेज प्रथा का पुरजोड़ विरोध करें। हम सबने ठाना है बाल विवाह दहेज प्रथा को जड़ से मिटाना है, हम सबने ठाना है बच्चों को शोषण से बचाना है।          इस मौके पर कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के प्रभारी वार्डन बेबी कुमारी, शिक्षिका शिवानी कुमारी, अभिभावक इंदु देवी, रामप्रभा देवी, सुनीता देवी, अनीता देवी सहित दर्जनों छात्रा मौजूद थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
अब पायें अपने शहर के सभी सर्विस प्रवाइडर के नंबर की जानकारी एक क्लिक पर


               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Back to top button
Close
Website Design By Mytesta.com