प्रमंडलीय आयुक्त ने प्रमंडल अंतर्गत सभी नगर निकायों के कार्यपालक पदाधिकारियों के साथ नगर विकास से संबंधित समीक्षात्मक बैठक किया

सहरसा:-प्रमंडलीय आयुक्त गोरखनाथ ने प्रमंडल अंतर्गत सभी नगर निकायों के कार्यपालक पदाधिकारियों के साथ नगर विकास से संबंधित समीक्षात्मक बैठक की। बैठक में नगरों के स्वरूप को बेहतर करने, आवश्यक एवं मूलभूत नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराने एवं नगर विकास के लिए विभाग स्तर से नगर प्रबंधन कार्य को अच्छे एवं सुव्यवस्थित तरीके से क्रियान्वित करने का निर्णय लिया गया। आयुक्त ने नगर क्षेत्र में जल-जमाव की समस्या के संबंध में कार्ययोजना की जानकारी ली। जबकि आंतरिक संसाधनों और आय की स्त्रोतों में वृद्धि व बेहतर कचरा प्रबंधन के लिए कार्रवाई की अवगत हुए। सहरसा नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि नगर के सभी 40 वार्डों से जल निकासी के लिए एजेंसी का चयन किया गया है। निर्माणाधीन दो संप हाउस का निर्माण इस माह के अंत तक पूरा हो जाएगा। जिससे माध्यम से जल की निकासी कर वुडको के नाला में लाते हुए मत्स्यगंधा झील एवं तिलाबे नदी में जल निकासी की योजना है। सुपौल नगर परिषद क्षेत्र में एक संप हाउस निर्माणाधीन होने की जानकारी दी गई। उन्होंने पटना एवं अन्य शहरों के आय स्त्रोतो के माडल का अध्ययन कर उसके आधार पर आय के स्त्रोत को बढ़ाने का प्रयास करने की जानकारी दी। नवसृजित नगर निकायों के कार्यों की जानकारी लेकर कई निर्देश दिये गये। वीरपुर नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि कोसी कालोनी एवं सशस्त्र सीमा बल परिसर केंद पर एक करोड़ एवं साठ लाख रुपये होल्डिग टैक्स बकाया रहने के संदर्भ में नीलाम पत्रवाद के माध्यम से राशि प्राप्त करने के निर्देश दिये गये। सिमरी बख्तियारपुर नगर परिषद क्षेत्र में नये बसस्टेंड हेतु चिह्नित भूमि के भूमि हस्तांतरण हेतु प्रस्ताव देने का निर्देश दिया गया।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close