सुरक्षित त्योहार मनाने एवं डेंगू के ख़तरों से बचाव के लिए सभी को जागरूक रहने की जरूरत

छठ घाटों पर जाने से पूर्व सुरक्षात्मक उपायों पर अमल करने की आवश्यकता:- जिलाधिकारी

पूर्णिया:-चार दिवसीय लोकआस्था का महापर्व छठ शुक्रवार से शुरू होकर सोमवार की सुबह में उदीयमान सूर्य को अर्घ देने के साथ ही संपन्न हो जाएगा। लेकिन पर्व-त्योहार सुरक्षित मनाने को लेकर कोविड-19 एवं डेंगू के ख़तरों से बचाव के लिए ख़ुद जागरूक होने की जरूरत है।  छठ घाटों पर जाने से पूर्व सुरक्षात्मक उपायों पर अमल करने की आवश्यकता:-जिलाधिकारी
जिलाधिकारी सुहर्स भगत ने बताया कि ज़िलें के सभी छठ घाटों पर सुरक्षा के लिहाज से पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारीए पुलिस पदाधिकारी (महिला व पुरुष) पुलिस के जवान (महिला एवं पुरूष) तैनात किया गया है। विभिन्न तरह के संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी सुरक्षात्मक उपायों पर अमल करने की आवश्यकता होती हैं। क्योंकि जब तक हमलोग ख़ुद को सुरक्षित नहीं रखेंगे तब तक ख़ुशनुमा माहौल में पर्व नहीं मना सकते है। इसके लिए छठ घाटों पर जाने से पूर्व बच्चे एवं बुजुर्गों का ख़्याल सबसे पहले करने की आवश्यकता है। क्योंकि सर्द मौसम में 10 साल से कम उम्र के बच्चे सर्दी, खांसी एवं बुखार सहित अन्य रोग से ग्रसित हो सकते है। किसी भी अप्रिय स्थिति से निबटने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से मेडिकल टीम के अलावा गोताखोरों की व्यवस्था की गई हैं। ज़िलें के छठ घाटों पर एंबुलेंस के साथ मेडिकल टीम की होगी व्यवस्था: सिविल सर्जन प्रभारी सिविल सर्जन डॉ मोहम्मद साबिर ने बताया कि जिलाधिकारी सुहर्स भगत के निर्देशानुसार छठ महापर्व को लेकर ज़िले के सभी शहरी छठ घाटों पर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 09 चिकित्सीय टीम के साथ एम्बुलेंस की उपलब्धता सुनिश्चित कराई गयी है। जिसमें नगर निगम क्षेत्र के पूर्णिया सिटी स्थित सौरा नदी तट पर अवस्थित काली मंदिर घाट, दमका चौक (नहर के समीप), पंचमुखी मंदिर चौक (पक्की तालाब), बेलौरी बाईपास (सौरा नदी तट) पॉलिटेक्निक चौक के पीछे, ततमा टोली पोखर, चूनापुर बक्सा घाट, सुदीन चौक के समीप छठ पोखर एवं कला भवन स्थित छठ घाट पर पूजा करने के लिए बनाए गए घाटों पर चिकित्सा पदाधिकारियों के नेतृत्व में एंबुलेंस सहित मेडिकल टीम की प्रतिनियुक्ति की गई है। छठ व्रत को लेकर सभी तरह की तैयारियां पूरी: डीपीएम जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम ब्रजेश कुमार सिंह ने बताया कि आगामी 30 एवं 31 अक्टूबर को आयोजित लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा के अवसर पर छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं की सेहत का ख़्याल रखने के लिए हर तरह की चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से ज़िलें के सभी स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के अलावा चिकित्सा पदाधिकारियों के नेतृत्व में एम्बुलेंस के साथ स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से सजग रहेगा।   जिसकी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। वही शहरी क्षेत्रों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के प्रमुख छठ घाटों पर किसी भी तरह की आपात स्थिति से निबटने के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ व स्थानीय स्तर पर उपलब्ध गोताखोरों की मदद ली जायेगी। प्रमुख छठ घाटों पर एंबुलेंस के साथ विशेष रूप से मेडिकल टीम की प्रतिनियुक्ति की गई हैं।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close