जिलाधिकारी ने मिशन 60 की सफलता के लिए प्रतिनियुक्त किये पदाधिकारी

जिलाधिकारी के सीधे सम्पर्क में रहेंगे प्रतिनियुक्त पदाधिकारी

सुपौल:-जिलाधिकारी कौशल कुमार द्वारा सदर अस्पताल सुपौल के सुदृढ़ीकरण एवं 24 गुणा 7 क्रियान्वयन 60 दिनों में मिशन मोड पर सुनिश्चित करने पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। मिशन 60 के तहत सदर अस्पताल के बुनियादी ढ़ांचे का सुदृढ़ीकरण एवं स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार किया जाना है। बुनियादी ढ़ांचे के सुदृढ़ीकरण के तहत सदर अस्पताल, सुपौल परिसर बाहरी एवं आंतरिक साफ-सफाई, सुरक्षा सेवाऐं, दिवालों की रंगाई, पेयजल सुविधा, स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जाने वाले कक्षों के नामाकरण, मरीजों के बैठने की पर्याप्त सुविधा, इन्टरकॉम, टोकन सिस्टम, तकनीकी आधारित स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार एवं उपयोगविहीन हो चुके भवनों का नवनिर्माण आदि शामिल हैं। वहीं सप्ताह के सातों दिन चौबीसों घंटे स्वास्थ्य सुविधाऐं उपलब्ध कराने की दिशा में सुविधाओं का विस्तार जैसे- ओपीडी, मेडिसीन, प्रसव, शल्य चिकित्सा, एम्बूलेंस, सीटी स्कैन, डयलिसिस, एक्स-रे, लैब, दवा की उपलब्धा सुनिश्चित करना, मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाऐं आदि शामिल हैं। मिशन 60 के तहत किये जा रहे बदलाव सदर अस्पताल सुपौल में अब स्पष्ट दिखाई पड़ने लगे हैं।                             इसका सतत पर्यवेक्षण एवं निरीक्षण किया जाना जरूरी है। पदाधिकारी एवं स्वास्थ्य कर्मी किये गये प्रतिनियुक्त-जिलाधिकारी कौशल कुमार ने कहा मिशन 60 के तहत सदर अस्पताल सुपौल में किये जा रहे कार्यों को समय पर पूर्ण करने के लिए पदाधिकारियों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को प्रतिनियुक्त किया जाना जरूरी है। इसके लिए ओपीडी एवं फार्मेसी सुविधाओं के लिए सुरेश प्रसाद, अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी एवं अभिलाष कुमार वर्मा, स्वास्थ्य प्रबंधक सदर अस्पताल; मातृत्व एवं शिशु विभाग के लिए पवन कुमार यादव, वरीय उप-समाहर्त्ता, सुपौल एवं डॉ मन्नु कुमारी, केयर इंडिया; आउट सोर्सिंग सेवाऐं एवं अन्य के लिए अनन्त कुमार, अपर अनुमण्डल पदाधिकारी सुपौल एवं बाल कृष्ण चौधरी, जिला योजना समन्वयक एवं आपात कालीन सेवाओं के लिए अभिषेक रंजन वरीय उपसमाहत्ता एवं शशि भूषण प्रसाद जिला मूल्यांकन एवं अनुश्रवण पदाधिकारी को नामित किया गया है। अपने आदेश में प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को नियमित रूप से सदर अस्पताल सुपौल पहुंचकर अपने कर्त्तव्य एवं दायित्व का दृढ़ता से निर्वहन करने एवं किसी तरह की त्रुटि/अनियमितता पाये जाने प्रतिवेदन समर्पित करने के निदेश जारी किये हैं। प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों पर भी रहेगी पैनी नजर-जिलाधिकारी द्वारा प्रतिनियुक्त किये गये पदाधिकारियों द्वारा किये गये कार्यों के समुचित निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण के लिए मनीष कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, सुपौल को नोडल पदाधिकारी के तौर पर नामित किया गया है। अस्पताल परिसर में विधि-व्यवस्था का संधारण, जीर्ण-शीर्ण भवन को भवन निर्माण प्रमंडल सुपौल से समन्वय स्थापित कर उसे तोड़वाना, अस्पताल की जमीन को अतिक्रमण मुक्त करना इत्यादि के साथ अस्पताल परिसर में बिचौलियों/ असामाजिक तत्वों पर सख्त निगरानी रखते हुए उसके विरुद्ध यथोचित कार्रवाई करना सुनिश्चित करने के निदेश जिलाधिकारी द्वारा जारी किये गये हैं। अनुमंडल पदाधिकारी के सहयोग के लिए जिला कार्यक्रम प्रबंधक मो मिन्नतुल्लाह को प्रतिनियुक्त किया गया है।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close