जिले में गठित की जाएगी आयुष्मान भारत जन आरोग्य समिति

आयुषमान भारत जन आरोग्य समिति के दायित्वों से कराया गया अवगत

सुपौल:- जिले में आयुष्मान भारत जन आरोग्य समिति के गठन हेतु सिविल सर्जन डा. मिहिर कुमार वर्मा की अध्यक्षता में हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर पर स्वास्थ्य प्रबंधक, प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक एवं सीएचओ के साथ एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला आयोजित हुई । जिले के हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर पर स्वास्थ्य सेवाओं के प्रावधान के संबंध में इसके संचालन, प्रबंधन, उपभोग और जवाबदेही सुनिश्चित करने में जन प्रतिनिधियों की सक्रिय भागीदारी हेतु आयुष्मान भारत जन आरोग्य समिति के रूप में एक मंच उपलब्ध कराया जाना है। जिसमें सभी स्वास्थ्य प्रबंधक, प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक एवं सीएचओ को जन आरोग्य समिति के उद्देश्यों के बारे में बताया गया। इस एक दिवसीय कार्यशाला के दौरान जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबंधक मो0 मिन्नतुल्लाह, जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी शशिभूषण प्रसाद, जिला योजना समन्वयक बाल कृष्ण चौधरी स्वास्थ्य विभाग के सहयोगी संस्था पिरामल, पीएफआई, जपायगो, केयर इंडिया के प्रतिनिधिगण एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे। स्वास्थ्य सेवाओं के प्रबंधन में सामुदायिक भागीदारी जरूरी-सिविल सर्जन डा. मिहिर कुमार वर्मा ने बताया जिले के हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों पर जन आरोग्य समिति की महत्ता समुदाय के बीच में रहकर एवं समुदाय का साथ लेकर हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर को सुचारु रूप से चलाया जाना है। जन आरोग्य समिति की बैठक प्रत्येक माह आयोजित की जानी है। जिसमें पंचायतों के मुखिया, पंचायत समिति सदस्य के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग, जीविका, आईसीडीएस, शिक्षा विभाग एवं गैर सरकारी स्थानीय संस्था के साथ बैठक कर सभी पहलुओं पर समय सीमा के अंदर सभी कार्यों का निष्पादन किया जा सके एवं समुदाय को बीमारियों से बचाव हेतु कॉउन्सिलिंग की जा सके। टी.बी. के मरीजों की खोज कर उनको लगातार दवा उपलब्ध कराना आदि। इसी तरह से सभी बीमारियों को पहले खोजकर उनका उच्चतर संस्थान में इलाज हेतु रेफर किया जाना आदि। जन आरोग्य समिति में जन संवाद बहुत महत्वपूर्ण है, जो कि समुदाय में रह रहे लोगों को इकट्ठा कर उनकी आपबीती सुनी जाय एवं बतायी जाय। जिससे लोगों में हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों के प्रति अच्छा प्रभाव पड़ेगा एवं लोग इन सेंटरों पर उपचार हेतु आ पायेंगे।  जन आरोग्य समिति के प्रमुख उद्देश्यों से काराया गया अवगत-समिति के गठन हेतु आयोजित कार्यशाला के दौरान लोगों को जन आरोग्य समिति के प्रमुख उद्देश्यों से जिला स्वास्थ्य समिति की ओर से जिला कार्यक्रम प्रबंधक मो0 मिन्नतुल्लाह द्वारा अवगत कराया गया। उन्होंने बताया जन आरोग्य समिति के प्रमुख उद्देश्यों में अनुमंडल व प्रखंड स्तर के आयुष्मान भारत- हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टरों के संस्थागत मंच के रूप में सेवा करना, इसके प्रबंधन, शासन में सामुदायिक भागीदारी और स्वास्थ्य सेवाओं और सुविधाओं के प्रावधान के संबंध में जावबदेही सुनिश्चित करना आदि प्रमुख है । साथ हीं राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों और अन्य सामुदायिक हस्तक्षेपों की सामुदायिक स्तर की गतिविधियों में स्वास्थ्य के सामाजिक और पर्यावरणीय निर्धारकों पर स्वास्थ्य संवर्धन और कार्रवाई के लिए ग्राम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य समिति के साथ काम करने में आयुष्मान भारत- हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर की टीम का समर्थन, ग्राम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य समिति के लिए सेवा करना, ग्राम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य समिति को मेंटरशिप प्रदान करना भी है । इसके अलावा अनटाइड फंड के प्रबंधन और स्वास्थ्य प्रणाली के साथ समन्वय में उनका समर्थन करना, अपने क्षेत्र के ग्राम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य समिति को आयुष्मान भारत- हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टरों के सामुदायिक स्तर के हस्तक्षेप में शामिल करना, विशेष रूप से विभिन्न आयु-समूहों के लिए स्क्रीनिंग की सुविधा में, फॉलोअप और उपचार पालन को बढ़ावा देने (रोगी सहायता समूहों को समर्थन सहित), सर्वेक्षण करने और अन्य संबंधित कार्रवाई के लिए लाभ सुनिश्चित करना, ग्राम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य समिति के समन्वय से आयुष्मान भारत- हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टरों में सामाजिक उत्तरदायित्व से संबंधित गतिविधियों के संचालन को समर्थन और सुविधा प्रदान करना, आयुष्मान भारत- हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टरों में स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंचने वाले परिवारों के लिए शिकायत निवारण मंच के रूप में कार्य करना, गुणवत्ता सेवाओं के लिए उपलब्धता और जवाबदेही सुनिश्चित करना, स्वास्थ्य योजना शुरू करने में क्षेत्र की ग्राम पंचायतों को सुविधा और समर्थन देना आदि है।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close