प्रखंड स्तरीय जेंडर फोरम का गठन: सौ करोड़ का कहना हिंसा को अब नहीं सहना 

पटना:-जिला के प्रखंड धनरूआ के सभागार में जीविका एवं सेंटर फॉर catalyzing चेंज के सहयोग से जेंडर फोरम का गठन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन प्रखंड प्रमुख बबिता कुमारी, प्रखंड राज पदाधिकारी महेश प्रसाद चौधरी, C3 की जेंडर लीड, मधु जोशी एवं जीविका के सामाजिक विकास की प्रबंधक प्रीति रानी के द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।   जीविका दीदियों ने पौधों से भेंट कर सभी अतिथियों का स्वागत किया। C3 के राज्य प्रमुख, संदीप ओझा के द्वारा बताया गया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के प्रति हो रहे हिंसा का समाधान करना है उन्होंने जीविका साझा शक्ति केंद्र एवं जेंडर फोरम के बीच समन्वय की बात की।   एवं पंचायत स्तरीय जेंडर फोरम के महत्ता को बताया। C3 से जुड़ी मधु जोशी ने 25 नवम्बर अंतरराष्ट्रीय हिंसा उन्मूलन दिवस के दिन से शुरू होने वाले जागरूकता अभियान के ऊपर चर्चा किया एवं उसकी महता को बताया। साथ ही जीविका के प्रखंड परियोजना अधिकारी, प्राक्षि प्रिया ने बताया कि महिलाओं को समाज की मुख्य धारा में लाने के लिए बिहार के 3 जिले पटना, नालंदा एवं मुजफ्फरपुर के कुल 4 प्रखंडों में c3 संस्था पिछले एक साल से जेंडर एकीकरण परियोजना पर कार्य कर रही है।महिलाओं से जुड़ी लैंगिक समस्याओं के समाधान के धनरुआ में तीन साझा शक्ति केंद्र बनाया गया।   और सात पंचायत में मुखिया जी की अध्यक्षता में जेंडर फोरम का गठन किया गया। जीविका दीदी ने भी अपनी आवाज बुलन्द की। और नारा लगाया है जीविका दीदी का ये कहना, हिंसा को अब नहीं सहना। इस बात पर पंचायती राज पदाधिकरी, महेश प्रसाद चौधरी कार्यक्रम आधिकारी मनरेगा वीरेंद्र कुमार, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग,आईसीडीएस एवं कृषि विभाग से आए प्रतिनिधि ने भी अपनी बातों को रखा ओर हर समय सहयोग करने की बात की। सर्वसहमति से जेंडर फोरम का गठन किया गया।   इस कार्यक्रम का समापन प्रखंड परियोजना प्रबंधक, कृष्णा भारद्वाज ने धन्यवाद ज्ञापन के साथ किया। मौके पर जीविका कर्मी अनिरुद्ध, अजीत, आशा, उषा अमरजीत एवं जीविका दीदिया भी उपस्थित रही।

Live Cricket

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Don`t copy text!
Close
Close